चलती औसत ट्रेडिंग रणनीति

निवेशकों के लिए असली परीक्षा

निवेशकों के लिए असली परीक्षा

निवेशकों के लिए असली परीक्षा

Commodity Roundup: Pulses के क्या Price होंगे India में कम. किन Levels पर करनी चाहिए आपको खरीदारी निवेशकों के लिए असली परीक्षा और क्या है इसके Target price,जानिए किस Strategy के साथ इसमें पैसा कमाया जा सकता है. देखें वीडियो.

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 16:31

Hot stocks: दो हफ्तों में 20% रिटर्न देंगे ये शेयर

Hot Stocks:शॉर्ट टर्म में चाहते हैं 11-19% का जोरदार रिटर्न निवेशकों के लिए असली परीक्षा तो इन शेयरों को अपने पोर्टफोलियो में करें शामिल

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 21:01

Top Headlines Today: आज दिन भर की खास खबरें

Top Headlines Today: गुजरात के आणंद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित किया। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा | सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ कैलिफोर्निया में गिरफ्तार, CM मान ने दी जानकारी | JNU में जातिवादी नारों से गरमाई सियासत, कई Professor के कमरों के बाहर लिखे जातिवादी नारे

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 19:21

Maruti Suzuki: निवेश का प्लान है तो मैनेजमेंट की सुनिए

Maruti Suzuki: नवंबर में 3.22 लाख गाडियां बिकी हैं , नवंबर में टॉप 10 बिकने वाली गाडियों में से 7 मारूती की,महंगाई दरें अभी भी ज्यादा हैं : Maruti Suzuki के Shashank Srivastava की राय | Maruti Suzuki के Auto Sales के नतीजों पर Management संग चर्चा

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 17:25

Commodity Roundup: क्या दाल के घटेंगे दाम

Commodity Roundup: Pulses के क्या Price होंगे India में कम. किन Levels पर करनी चाहिए आपको खरीदारी और क्या है इसके Target price,जानिए किस Strategy निवेशकों के लिए असली परीक्षा के साथ इसमें पैसा कमाया जा सकता है. देखें वीडियो.

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 16:31

Hot stocks: दो हफ्तों में 20% रिटर्न देंगे ये शेयर

Hot Stocks:शॉर्ट टर्म में चाहते हैं 11-19% का जोरदार रिटर्न तो इन शेयरों को अपने पोर्टफोलियो में करें शामिल

अपडेटेड निवेशकों के लिए असली परीक्षा Dec 02, 2022 पर 21:01

Top Headlines Today: आज दिन भर की खास खबरें

Top Headlines Today: गुजरात के आणंद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित किया। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा | सिद्धू मूसेवाला निवेशकों के लिए असली परीक्षा हत्याकांड का मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ कैलिफोर्निया में गिरफ्तार, CM मान ने दी जानकारी | JNU में जातिवादी नारों से गरमाई सियासत, कई Professor निवेशकों के लिए असली परीक्षा के कमरों के बाहर लिखे जातिवादी नारे

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 19:21

Maruti Suzuki: निवेश का प्लान है तो मैनेजमेंट की सुनिए

Maruti Suzuki: नवंबर में 3.22 लाख गाडियां बिकी हैं , नवंबर में टॉप 10 बिकने वाली गाडियों में से 7 मारूती की,महंगाई दरें अभी भी ज्यादा हैं : Maruti Suzuki के Shashank Srivastava की राय | Maruti Suzuki के Auto Sales के नतीजों पर Management संग चर्चा

अपडेटेड Dec 02, 2022 पर 17:25

Commodity Roundup: क्या दाल के घटेंगे दाम

Commodity Roundup: Pulses के क्या Price होंगे India में कम. किन Levels पर करनी चाहिए आपको खरीदारी और क्या है इसके Target price,जानिए किस Strategy के साथ इसमें पैसा कमाया जा सकता है. देखें वीडियो.

Paper Leak Cases: पेपर लीक मामलों में राजस्थान ने बनाया रिकॉर्ड, बीते चार साल से लाखों युवाओं का भविष्य हो रहा 'सीज'

Rajasthan Paper Leak Cases: बिजली विभाग के जेईएन भर्ती 2022 मेंं जयपुर के के एक कॉलेज में ऑनलाइन पेपर लीक पर बवाल हुआ था. तकनीकी समस्या के चलते पेपर दोबारा करवाने की बात हुई, तब मामल शांत हुआ.

By: संतोष कुमार पांडे, जयपुर | Updated at : 14 Nov 2022 03:16 PM (IST)

(पेपर लीक मामलों में राजस्थान पहले नंबर पर.)

Forest Guard Exam Paper Leak: जहां एक तरफ राजस्थान सरकार युवाओं को रोजगार देने के बड़े-बड़े सपने दिखा रही है, वहीं साल 2018 से अभी तक पेपर लीक केसेस में राज्य का रिकॉर्ड बन गया है. ऐसे में प्रदेश के लाखों युवाओं का भविष्य 'सीज' होता हुआ दिखाई देने लगा है. दो दिन पहले ही वनरक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर निरस्त हुआ है. इस परीक्षा के लिए दो वर्ष से अभ्यर्थी इंतजार में थे.

बोर्ड की ओर से 2300 पदों पर 2020 में भर्ती की विज्ञप्ति निकाली गई और 4,09,129 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया. परीक्षा में 2,11,174 अभ्यर्थी बैठे थे. परीक्षा 12 और 13 नवंबर को हुई. कुल 16.36 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था. बोर्ड की यह अभी तक की बड़ी भर्ती परीक्षा थी, लेकिन यह भी निरस्त हो गई. आइये जानते हैं कि वर्ष 2018 से लेकर अभी तक सरकार के द्वारा कराई गई कितनी परीक्षाएं निरस्त हुई है. जिसकी वजह से लाखों अभ्यर्थियों का भविष्य अधर में फंस गया है.

लाखों अभ्यर्थियों को दोबारा देनी होगी परीक्षा
वनरक्षक भर्ती परीक्षा रद्द होना कोई नई बात नहीं है. यहां तो परीक्षा रद्द होना राज्य के हिस्से में आ सा गया है. नाराज युवा आंदोलन करता है और मायूस होकर बैठ जाता है. वनरक्षक के लिए फिर से 4 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को परीक्षा देनी पड़ेगी. यह परीक्षा जनवरी में फिर आयोजित होगी या नहीं? इसकी कोई पुख्ता जानकारी देने को सरकार तैयार नहीं है. राजस्थान में चार सालों से यही चलता आ रहा है. युवा बेइंतहा परेशान हो रहे हैं. परिक्षाओं का पेपर लीक हो रहा और सरकार के सारे दावे फेल हो जाते हैं.

News Reels

कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा 2018:
पुलिस की परीक्षा विवादों में हो गई. 15 हजार पुलिस कांस्टेबल पदों की भर्ती परीक्षा में पुलिस को 11 मार्च 2018 को प्रश्न पत्र लीक होने की जानकारी मिली थी. इसके बाद 17 मार्च को परीक्षा रद्द की गई. इससे पहले हुई पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में सीकर के एक ही सेंटर के एक ही कमरे से कई विद्यार्थियों का चयन सवालों के घेरे में आया था. इसके बाद से युवाओं में निराशा का माहौल बन गया था.

लाइब्रेरियन थर्ड भर्ती परीक्षा 2018:
युवाओं को एक मौक़ा जब लाइब्रेरियन थर्ड ग्रेड भर्ती परीक्षा में शामिल होने को मिला तो इसमें भी इन्हे निराशा मिली. राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से 29 दिसम्बर 2019 को आयोजित हुई परीक्षा को पेपर लीक होने पर रद्द किया गया. परीक्षा रद्द होने की वजह से बेरोजगारों को परीक्षा के लिए दोबारा कई महीनों तक इंतजार करना पड़ा. लाइब्रेरियन थर्ड ग्रेड भर्ती परीक्षा-2018 का अंतिम परीक्षा परिणाम जारी करने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों ने राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड के कार्यालय पर प्रदर्शन भी किया था.

जेईएन सिविल डिग्रीधारी भर्ती 2020:
इस परीक्षा में भी बड़ा खेल हुआ था. इस मामले में बोर्ड अध्यक्ष को इस्तीफा देकर भागना पड़ा था. राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से जेईएन सिविल डिग्रीधारी के 533 पदों के लिए 6 दिसम्बर 2020 को भर्ती परीक्षा कराई गई थी. जब पेपर लीक हुआ तो परीक्षा रद्द कराई गई. बोर्ड के तत्कालीन चेयरमैन बीएल जाटावत ने हाथ खड़े कर दिए थे. अभ्यर्थियों के हाथ यहां भी निराशा ही लगी.

शिक्षक भर्ती परीक्षा 2021:
रीट का परिणाम सबसे कम समय में जारी करने का रेकॉर्ड बनाने वाली सरकार खुद इस परीक्षा के फेर में उलझ गई. खुद मुख्यमंत्री को रीट द्वितीय लेवल का प्रश्न पत्र आउट होने की घोषणा करनी पड़ी. एसओजी अब तक 60 से ज्यादा आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है. अभी भी राज्य में इसका कोई समाधान नहीं निकाला गया है. लाखों युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ जारी है.

जेईएन भर्ती 2022 :
यहां भी मनमानी हुई और अभ्यर्थी परेशान हैं. बिजली विभाग के जेईएन भर्ती में जयपुर के राजधानी इंजीनियरिंग में ऑनलाइन पेपर लीक करने पर बवाल मचा. ऑनलाइन हो रही इस परीक्षा में तकनीकि समस्या के चलते एक सेंटर का पेपर दोबारा करवाने की बात पर मामला शांत हुआ था.

पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2022:
पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2022 का भी पेपर लीक हुआ. इसका पेपर 14 मई की दूसरी पारी का प्रश्न पत्र आखिरकार खुद पुलिस ने रद्द कर दिया. अब प्रदेश के ढाई लाख से अधिक अभ्यर्थियों को दोबारा परीक्षा देनी होगी. सरकार सफाई देती रही लेकिन परिणाम सिफर रहा है.

Published at : 14 Nov 2022 03:16 PM (IST) Tags: crime Rajasthan paper leak forest guard exam हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: News in Hindi

Government Investment Schemes 2022: नए साल में यहां निवेश करके कमाएं निवेशकों के लिए असली परीक्षा ढ़ेर सारा पैसा

Government Investment Schemes 2022: नए साल में यहां निवेश करके कमाएं ढ़ेर सारा पैसा

आज के इस महंगाई के दौर में हर व्यक्ति पैसा बचाना चाहता है. इसके लिए हम सब अलग-अलग प्रकार के इन्वेस्टमेंट या निवेश प्लान का हिस्सा बनने की तलाश में रहते हैं. अगर मार्केट पर नजर डालें, तो आज हजारों इन्वेस्टमेंट प्लांस मौजूद हैं. हालांकि, निवेशकों के लिए असली परीक्षा इसकेसाथ ही, लोगों को निवेश के पैसे डूबने का खतरा भी सताता रहता है. ऐसे में अक्सर लोग इस बात को ध्यान में रखते हैं, कि इन्वेस्टमेंट प्लान ऐसा हो, जिसमें जोखिम एकदम शून्य के बराबर हो. आज हम इस लेख में कुछ ऐसी Government Investment Schemes की सूची लेकर आए हैं, जिनके साथ निवेशकों के लिए एकदम 0% रिस्क की संभावना रहती है. साथ ही, निवेशकों को उच्च रिटर्न भी मिलता है. आइए नज़र डालते हैं, ऐसी ही योजनाओं पर.

National Pension scheme (NPS)

इस Government Investment Scheme को केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2004 में लॉन्च किया गया था. इस स्कीम को लॉन्च के समय, सिर्फ़ सरकारी कर्मचारियो के लिए ही शुरू किया गया था. लेकिन वर्ष 2009 में, भारत सरकार ने इसे स्वरोजगार और निजी क्षेत्र के वेतनभोगी कर्मचारियों सहित सभी के लिए खोल दिया. इस योजना के तहत, ग्राहक को उनके निवेश पर 10-15% ब्याज मिलेगा. 18 से 60 वर्ष की आयु तक भारतीय निवेशकों के लिए असली परीक्षा नागरिक, इस योजना की सदस्यता लेने के पात्र हैं. साथ ही, नियोक्ता भी इस योजना के तहत कर्मचारी की मासिक आय से एक समान राशि का योगदान कर सकते हैं.

Post Office Monthly Income Scheme (POMIS)

यह Government Investment Scheme, किसी भी पारंपरिक बचत खाते की तरह ही काम करती है. हालांकि, यह फिक्स्ड डिपॉजिट से मिलती-जुलती है. व्यक्तिगत खाताधारक, कम से कम 1,000 रूपए और अधिकतम 4.5 लाख रूपए ही इस योजना में निवेश कर सकते हैं. खाताधारक को डाकघर में उसके बचत खाते में जमा ब्याज के रूप में मासिक निश्चित आय प्राप्त होगी. योजना के तहत दी जाने वाली ब्याज की वर्तमान दर 6.6% सालाना है, जो कि हर माह प्रदान की जाती है.

Public Provident Fund (PPF)

इस Government Investment Scheme को व्यक्ति अपने रिटायरमेंट का फंड इकट्ठा करने के लिए इस्तेमाल कर सकता है. PPF खाता खोलने के लिए कम से कम 500 रुपए का निवेश करना अनिवार्य होता है. खाते को मैच्योरिटी के बाद 5 साल के ब्लॉक के लिए बढ़ाया भी जा सकता है. यह खाते खोलने के तीसरे वित्तीय वर्ष से लेकर छठे वित्तीय वर्ष तक लोन लेने की सुविधा भी उपलब्ध होती है. केंद्र सरकार की तरफ़ से इस योजना को मुख्य रूप से उन लोगों के लिए शुरु किया गया था, जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं और पेंशन योजना के लाभ से वंचित रह जाते हैं.

National Savings Certificate (NSC)

यह Government Investment Schemes निश्चित आय निवेश योजना है, जिसे भारत में किसी भी नजदीकी डाक घर में खोला जा सकता है. इस योजना में कम से कम 1000 रुपए की राशि निवेश की जाती है. यह योजना कर-लाभ वाले बचत बांड के तौर पर जानी जाती है, जो ग्राहकों को टैक्स से पैसे बचाने के साथ-साथ निवेश करने के लिए भी प्रोत्साहित करती है.

Sovereign Gold Bond (SGB)

यह Government Investment Scheme, ​​भारत सरकार की ओर से RBI द्वारा गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम के तहत 2015 में शुरू की गई एक निवेश योजना है. हालांकि, यह बॉन्ड असली सोने के स्थान पर इस्तेमाल नहीं किए निवेशकों के लिए असली परीक्षा जाते हैं. निवेशक, नकद राशि देकर इस योजना से जुड़ते हैं और रिटर्न में नकद राशि प्राप्त करते हैं. योजना के तहत, भुगतान किए गए ब्याज की दर 2.5% प्रति वर्ष है और ब्याज राशि 6 महीने के बाद ग्राहक के खाते में जमा की जाती है. वर्ष 2022 में SGB 10-14 जनवरी के बीच जारी किया जाएगा.

FB की असली परीक्षा होंगे भारत और ब्राजील के चुनाव, नकली अकाउंट होंगे ब्लॉक

FB की असली परीक्षा होंगे भारत और ब्राजील के चुनाव, नकली अकाउंट होंगे ब्लॉक

नई दिल्ली [ प्रेट्र ] । भारत और ब्राजील के आगामी चुनाव फेसबुक की असली परीक्षा होंगे। यह कहना है सोशल मीडिया कंपनी के प्रमुख मार्क जुकरबर्ग का। गौरतलब है कि फेसबुक के लगभग 10 करोड़ यूजर का डाटा लीक होने के चलते गत दिनों कंपनी को आलोचना के साथ ही भारत समेत कई देशों की सरकारों ने नोटिस भी जारी किया था। निवेशकों से बातचीत के दौरान जुकरबर्ग ने कहा कि अगले 18 महीने कंपनी के लिए महत्वपूर्ण हैं। इस दौरान भारत, ब्राजील और यूरोपीय यूनियन में चुनाव होने हैं। कंपनी को पूरा भरोसा है कि वह इस दौरान अपना खोया हुआ विश्वास फिर से हासिल कर लेंगे।

इस बीच फेसबुक ने झूठी खबरों पर नकेल कसने के लिए नकली अकाउंट ब्लॉक करने समेत कई अहम कदम उठाए हैं। दुनियाभर में कहीं भी चुनाव में फेसबुक के दुरुपयोग को रोकने और विज्ञापनों में पारदर्शिता के लिए भी कई कदम उठाए जा रहे हैं। बता निवेशकों के लिए असली परीक्षा दें कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए हिंसा फैलने और कुछ अन्य मामलों को लेकर फेसबुक को लगातार आलोचनाओं का

सामना करना पड़ रहा है। कैंब्रिज एनालिटिका मामले में फेसबुक के संस्थापक व सीईओ मार्क जुकरबर्ग को अमेरिकी और यूरोपीय संसद में सवालों का सामना भी करना पड़ा था। फेसबुक पर 2016 के अमेरिकी चुनाव में गलत तरीके से लोगों को प्रभावित करने का आरोप लगा था।

फेसबुक के सिविक एंगेजमेंट हेड समिध चक्रवर्ती ने बताया कि इस साल अब तक फेसबुक ने इटली, कोलंबिया, तुर्की और अमेरिका में झूठी खबरों पर नकेल के लिए कुछ कदम उठाए हैं। इस साल के आखिर तक दुनियाभर में 50 से ज्यादा देशों में होने वाले चुनावों पर हमारी नजर रहेगी। उन्होंने बताया कि मशीन लर्निग की मदद से नकली अकाउंट को ब्लॉक करना और हटाना ज्यादा आसान हुआ है। चक्रवर्ती ने कहा कि नकली अकाउंट बंद करना इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि सोशल मीडिया पर अक्सर गलत बातों के स्रोत ऐसे ही अकाउंट होते हैं।

रेटिंग: 4.43
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 340
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *